बरमूडा त्रिकोण का रहस्य – रहस्यमयी शैतानी त्रिकोण | The Mystery of Bermuda Triangle

बरमूडा त्रिकोण का रहस्य – रहस्यमयी शैतानी त्रिकोण | The Mystery of Bermuda Triangle

बरमूडा त्रिकोण का रहस्य – रहस्यमयी शैतानी त्रिकोण | The Mystery of Bermuda Triangle

“बरमूडा त्रिकोण” – यह समुन्द्र में मौजूद सबसे बड़ा राज़ है | पानी से गुजरो या फिर हवा से यंहा कोई नहीं बचता | आज तक हजारों नावों और जहाज़ कंहा चले गए ये किसी को भी नहीं पता | यंहा ऐसे कई घटनाएँ घटित होती हैं जिसका उत्तर आज तक विज्ञानं हमे नहीं दे सका और इसी कारन इसे – “DEVIL’S TRIANGLE” यानि की शैतानी त्रिकोण भी कहा जाता है | लेकिन इस जगह को लेकर कई लोग कई तरह के असाधारण बात करते आयें है और आज भी करते हैं | अगर आप उन सभी बातों को सुनेंगे तो आपको अवस्य थोडा डर लगेगा | लोगों के हिसाब से यंहा पर जो रहस्यमयी और डरावनी घटनाएँ घटती रहती है वो आज से ही नहीं बल्कि साल 1492 से होती आ रही है | “Christopher Columbus” का यह कहना था की जब वें अपने जहाज़ से आगे बढ़ रहे थे तो उन्हें इस छेत्र में कई अजीब तरहों की रौशनी देखनो मिली थी | और उन्हें बिना किसी हवा के समुन्द्र में लहरें उठती दिख रही थी | उन्होंने यह भी कहा था की उनका कंपास इस छेत्र में आने के बाद काम नहीं कर रहा था | यह तो हो गयी बहुत पुरानी घटनाये अगर हम नए ज़माने की घटनाओं की बात करे तो विज्ञानं से भरी और आधुनिक युग से विकसित, आज के ज़माने में भी कई रहस्यमयी घटनाएँ घटती हैं इस जगह पे |

“FLIGHT 19” – 1945 उन सभी घटनाओ में सबसे प्रसिद्ध हैं | 5 DECEMBER,1945 को 14 नेवी एयरमैन ने उड़ान भरा आसमान की ओर जो की उनलोगों की सामान्य ट्रेनिंग की एक पार्ट थी | लगभग 1 घंटा और 14 मिनट के बाद उस जहाज़ के लीडर “Charles C. Taylor” ने रेडियो के जरिये एक सुचना भेजा की उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा है की उनके साथ क्या हो रहा है | उन्होंने ये भी कहा की उनके पास जो 3 कंपास थे उनमे से एक भी सही से काम नहीं कर रहा है, वो किस दिशा में बढ़ रहे हैं उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा है | उस दिन के बाद वो जहाज़ कंहा लुप्त हो गयी, कंहा गायब हो गयी आज तक कुछ पता नहीं चला है | न तो किसी भी आस-पास के समुन्द्र में या किसी भी समुन्द्र के नीचे | इसके कुछ देर बाद शाम में एक खोज दल भेजा गया उस जहाज़ का पता लगाने के लिए पर केवल 27 मिनट के बाद वो जहाज़ और उस जहाज़ में मौजूद 13 लोग, वो भी “FLIGHT 19” जैसे ही कंही खो गयी और वो दोनों आज तक कंहा है ये कोई भी नहीं जानता |

“USS CYCLOPS” की कहानी भी कुछ ऐसी ही है यह जहाज़ 1918 में 309 लोगों के साथ “Baltimore”, U.S जा रही थी और वो जहाज़ भी बरमूडा त्रिकोण से गुजरते वक़्त कंही गायब हो गयी थी और उसका भी पता आज तक किसी को नहीं चला | उस जहाज़ का एक भी कण किसी को नहीं मिला | अमिरीकी इतिहास की ये सबसे बड़ी हानियों में से एक है क्यूंकि ये पहली बार हुआ था की किसी जहाज़ के सफ़र ने 309 लोगों की जान ले ली |

इस शैतानी 5 लाख sqaure मील की जगह ने पिछले सदी में लगभग हजारों जहाजों और विमानों को अपने अंदर निगल लिया है | यह जगह उन जगहों में से एक है जंहा पर आसमान में अजीब तरह के रहस्यमयी रौशनियाँ देखने मिलती है और यही कारन कई लोगों को यह लगता ही की यंहा पर एलियंस वास करते हैं और वही लोगों का अपहरण करते हैं | लोगों का तो यह भी मानना है की यह एक किसी तरह का द्वार है जो हमे एक दूसरी नयी आयाम में ले जाती हैं | पर असल बात क्या है इस जगह के रहस्य क्या है यह कोई भी नहीं जान सका आज तक और इसलिए यह आज तक एक रहस्य बनकर रह गया है, एक अनसुलझा रहस्य |


आशा है की यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा | शेयर जरूर  करें |

Post a Comment

Please do comment spam links and words

Previous Post Next Post